Shayari About Cigarette

Ungliyon Mein Pakdi

उंगलियो में पकड़ी सुलगी हुई सिगरेट को देख ये ख्याल आया
मैं इसे फूँक रहा हूँ या ये मुझे!

Vote This Post DownVote This Post Up +2