Shayari About Attitude - Page 4

Shayari Ka Badshah Hu

शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।

Shayari Ka Badshah Hu

Tevar Toh Hum Waqt Aane Pe Dikhaenge

तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे ,
शहेर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम चलायेंगे…!

Tevar Toh Hum Waqt Aane Pe Dikhaenge

Manna Ki Teri Ek Awaaj Se

माना की तेरी एक आवाज से
भीड हो जाती हे ,
…..लेकिन हम भी आहिर हे ,
हमारी एक ललकार से पूरी भीड़
बिखर जाती हे ।।

Manna Ki Teri Ek Awaaj Se

Kutte Bhonkte Hain

कुत्ते भोंकते हे अपना वजूद बनाये रखने के लिये ,
और लोगो की खामोशी हमारी मौजूदगी बया करती हे

Kutte Bhonkte Hain

Goliyoon Ke Vaypari Hai Hum

गोलिओ के व्यापारी है हम इसलिये हमें धोडा कभी मत दिखाना,
क्योंकि जब ट्रीगर दबाओगे तो गोली बाहर आते ही पहले हमे सलाम ठोकेगी..

Goliyoon Ke Vaypari Hai Hum

Barood Jaisi Hai Meri Shaqshiyat

बारुद जैसी है मेरी शक्शीयत,
जहा से गुजरता हुं, लोग जलना शुरु कर देते हैं

Barood Jaisi Hai Meri Shaqshiyat

Kab Tak Wo Mera Hone Se

Kab tak wo mera hone se inkaar karega,
Khud tut kar wo ik din mjse pyaar karega,
Ishq ki aag me main usko itna jala dungi,
Ki izhaar wo mjse sar-e-bajaar karega

Kab Tak Wo Mera Hone Se

Meri Khamoshi

मेरी खामोसी को कमजोरी ना समझ
ऐ काफिर ,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है ।

Meri Khamoshi

Tu Beshaq Apni Mehfil Main

तू बेशक अपनी महफ़िल में मुझे बदनाम करती हैं,
लेकिन तुझे अंदाज़ा भी नहीं कि वो लोग भी मेरे पैर छुते है,
जिन्हें तू भरी महफ़िल में सलाम करती है

Tu Beshaq Apni Mehfil Main

Mujhe Bheek Ki Khushiyan

Mujhe Bheek Ki Khushiyan Pasand Nahin,
Main Jeeta Hun Apne Ghaamo Mein Nawabo Ki Tarha

Mujhe Bheek Ki Khushiyan