Shayari About Life - Page 3

Mujhe Tairne De

“मुझे तैरने दे या फिर बहना सिखा दे,
अपनी रजा में अब तू रहना सिखा दे,
मुझे शिकवा ना हो कभी भी किसी से,
हे ईश्वर !!
मुझे सुःख और दुःख के पार जीना सिखा दे| “

Vote This Post DownVote This Post Up 0

Kagaj Ke Noto Se Akhir

कागज़ के नोटों से आखिर
किस किस को खरीदोगे,
किस्मत परखने के लिए यहाँ आज भी
सिक्का ही उछाला जाता है

Vote This Post DownVote This Post Up 0

Bahut Kuchh Humne Khoya

Bahut Kuchh Humne Khoya,
Aur Bahut Kuchh Paaya,
Kasam Se Iss Zindagi Ne Humein Bahut Hasaaya,
Bahut Rulaaya,
Phir Bhi Shikwa Nahi Iss Zindagi Se Hume Koi,
Kyunki Isi Ne Kuchh Haseen Dosto Se Bhi Milaaya

Bahut Kuchh Humne Khoya
Vote This Post DownVote This Post Up 0

Samjh Na Aaya

समझ ना आया ऐ जिंदगी तेरा ये फलसफा,
एक तरफ कहती है सबर का फल मीठा होता है
और दूसरी तरफ कहती है
वक़्त किसी का इंतजार नही करता

Vote This Post DownVote This Post Up 0