Search

Raah Sangharsh Ki Joh Chalta Hai

Vote This Post DownVote This Post Up +1

राह संघर्ष की जो चलता है,
वो ही संसार को बदलता है।
जिसने रातों से जंग जीती है,
सूर्य बनकर वही निकलता है।

Category: Shayari About Life

More Entries

Leave a comment