PDA

View Full Version : आंसू


lonelygirl
5th May 2010, 10:12 AM
छोड़ मेरे नादान दिल अब,
फिर हो के आबाद क्या करना हैं,

जिसने भुला दिया है तुझको,
उसी को याद क्या करना है,

जो कल नही आया, आज भी नही आएगा,
झूठे वादों का ऐतबार क्या करना है,

ढूंढ लिया है मीत नया उसने,
अब तेरा प्यार क्या करना है,

फेर ली है निगाहें तो उसके लिए,
एक आंसू भी बरबाद क्या करना है,

नहीं उसे तुझ से प्यार तो छोड़,
बार बार फ़रियाद क्या करना है।